0

वाराणसी। पीएम के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पढ़ने वाली छात्राएं ही खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से वाराणसी के दो दिन के दौरे पर होंगे और उनके पहुंचने से पहले बीएचयू की छात्राओं ने बीएचयू गेट के सामने छेड़खानी के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया। यहां तक कि विरोध में एक छात्रा ने अपना सिर तक मुंडवा लिया।
छात्राओं के इस प्रदर्शन से जिला प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए हैं और धरना स्थल पर भारी फोर्स को तैनात कर दिया गया। इन छात्राओं का आरोप है इनके साथ कैंपस में लगातार छेड़खानी होती है। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होती। इन छात्राओं का आरोप है कि इसमें प्राक्टोरियल बोर्ड के लोग भी शामिल हैं जिसकी वजह से कोई कार्रवाई नहीं होती।
छात्राओं ने बताया कि उनके साथ हॉस्टल के गेट या क्लास में हर जगह आए दिन छेड़खानी होती है। गुरुवार शाम को भी त्रिवेणी हॉस्टल के बाहर कुछ छात्राओं के साथ छेड़खानी हुई तो छात्राओं ने चीफ प्रॉक्टर प्रो. ओएन सिंह को फोन बताया तो कार्रवाई के बजाय उल्टा छात्राओं को ही वे भला बुरा कहने लगे और कहा कि 6 बजे के बाद हॉस्टल के बाहर क्यों घूम रही थीं। फिलहाल छात्राएं कार्रवाई की मांग को लेकर धरने पर बैठी हुई हैं और प्रशासन इस मामले पर कुछ बोलने को तैयार नहीं है।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिनों के दौरे पर रहेंगे। इस दौरान वह कई इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करेंगे। साथ ही पीएम कई सभाएं भी करेंगे। प्रधानमंत्री जुलाहों और हथकरघा उद्योग में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए ट्रेड सेंटर के दूसरे चरण की शुरूआत करेंगे। साथ ही प्रधानमंत्री वाराणसी से वडोदरा जाने वाली तीसरी महामाना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top