0
पंचकूला। सीबीआई कोर्ट के फैसले के खिलाफ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। पंचकूली मामले में उनके वकील की ओर से याचिका दायर की गई है। गौरतलब है कि गत 25 अगस्त को पंचकूला के सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को मामले में दोषी करार दिया गया था। उसे भारतीय दंड संहिता (आइपीसी) की तीन धाराओं 376  (दुष्कर्म), 506 (डराने-धमकाने) और 509 (महिला की अस्मत से खिलवाड़) के तहत दोषी ठहराया था। इसके बाद राम रहीम को 28 अगस्त को सजा सुनाई गई। मामले में राम रहीम को कोर्ट ने दो साध्वियों से रेप केस में दस-दस साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई। ये दोनों सजाएं एक साथ चलनी है। साथ ही 15-15 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था। इस राशि में से 14-14 लाख दोनों पीड़िताओं को मिलना तय हुआ था। 25 अगस्त को दोषी करार दिए जाने के बाद से ही राम रहीम रोहतक की सुनारिया जेल में कैद है।
वहीं केस में राम रहीम को दोषी करार दिए जाने के बाद डेरा समर्थक भड़क गए थे। उन्होंने पंचकूला में जमकर उत्पात मचाया। खूब हिंसा और आगजनी हुई। पंजाब में भी भारी उपद्रव हुआ। इस हिंसा और आगजनी में अकेले पंचकूला में 38 लोगों की जान चली गई थी। कई दिन तक कर्फ्यू लगा रहा, करोड़ों का नुकसान हुआ।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top