0

जेडीयू विधायक के करीबी के बेटे पर आरोप

नई दिल्ली। बिहार के अरवल जिले के बाशी इलाके में हिंदी समाचार पत्र से जुड़े पत्रकार को गोली मार दी गई है। पीड़ित का नाम पंकज मिश्रा है जो एक हिंदी समाचार पत्र के लिए काम करते हैं। यह घटना उस समय हुई है जब वह अपने गांव जा रहे थे। पुलिस ने दोनों हमलावरों की पहचान कर ली है। इनके नाम अंबिका महतो और कुंदन बताया जा रहा है। इसमें से कुंदन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि घटना के पीछे लूटपाट भी एक वजह हो सकती है। वहीं जब पीड़ित पंकज मिश्रा का कहना है कि दोनों ही आरोपी स्थानीय निवासी हैं और कुर्था विधानसभा सीट से जेडीयू विधायक सत्यदेव सिंह के काफी करीबी हैं। इन हमलावरों में नंदन सत्यदेव सिंह के सहयोगी का बेटा है। पंकज का आरोप है कि वह कुंदन के खिलाफ अखबार में कई रिपोर्ट दे चुके हैं जिसकी वजह से उनको निशाना बनाया गया है। यह लूट का मामला नहीं है।
मिली जानकारी के मुताबिक पंकज मिश्रा एक ग्राहक सेवा केंद्र भी चलाते हैं जिसमें ग्रामीणों को सरकारी योजनाओें संबंधित सभी तरह के फॉर्म भरने में मदद की जाती है। घटना के समय पीड़ित पंकज के पास दो लाख रुपए थे। पंकज को तुरंत ही पटना मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवा दिया गया है। फिलहाल पुलिस अब अंबिका की तलाश कर रही है।
गौरतलब है कि बिहार में पत्रकार इससे पहले राजदेव रंजन की हत्या पर भी दिल्ली तक काफी हंगामा हो चुका है। इसमें आरजेडी के बाहुबली नेता शहाबुद्दीन का नाम सामने आया था। वहीं दो दिन पहले ही बेंगलुरू में पत्रकार गौरी लंकेश की भी हत्या हो चुकी है। जिसको लेकर काफी विरोध प्रदर्शन हो रहा है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top