0

सिरसा में मोबाइल-इंटरनेट बंद

सिरसा। डेरा सच्चा सौदा के सिरसा स्थित मुख्यालय में तलाशी अभियान जारी है। अब तक की जांच में कुछ कैश बरामद हुआ है। दो कमरे सील कर दिए गए हैं। कुछ हार्ड डिस्क भी मिली हैं। इसके साथ ही गुरमीत राम रहीम के डेरे से प्लास्टिक की करेंसी भी मिली है जो यहां चलती थी। इसके साथ ही सिरसा में 10 तारीख तक मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के नियुक्त किए गए कोर्ट कमिश्नर की निगरानी में तलाशी अभियान चल रहा है। तलाशी अभियान को 10 भागों में बांटा गया है। इस अभियान के लिए एसपी रैंक के अधिकारियों की 10 टीमें बनाई गई हैं।
राज्य पुलिस, अर्धसैनिक बल, आरएएफ के जवान, बम निरोधी दस्ता, दंगा निरोधी बल और दमकल की गाड़ियां भी अंदर गई हैं। इसके अलावा सेना की 4 टुकड़ियों को रिजर्व रखा गया है। 5 ड्रोन के जरिए डेरे की निगरानी की जा रही है। बैंक के 100 कर्मचारी भी डेरे के अंदर हैं। राजस्व विभाग की टीमें भी अंदर हैं। रुड़की से फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है। ताला तोड़ने वाले भी अंदर ले जाए गए हैं। पूरे तलाशी अभियान की वीडियोग्राफी की जा रही है। इसके लिए 50 वीडियोग्राफर अंदर है। डेरे का कैम्पस करीब 700 एकड़ का है इसलिए इस तलाशी अभियान में काफी समय लग सकता है। डेरा सुरक्षाकर्मियों के पास 30 से ज्यादा लाइसेंसी हथियार हैं। सिरसा में फिलहाल कर्फ्यू लगा हुआ है। पूरे तलाशी अभियान की सीलबंद रिपोर्ट हाइकोर्ट को सौंपी जाएगी
रेप केस में जेल में बंद गुरमीत राम रहीम का साम्राज्य कैसा है, किस तरह उसने सिरसा के नजदीक शहर के अंदर एक शहर बसा रखा है, जहां सिनेमाहॉल, मॉल, स्कूल और यहां तक कि रिसॉर्ट भी हैं। दो साध्वियों के रेप के केस में 20 साल की सजा होने के बाद भी सिरसा के आसपास के गांवों में कई सारे लोग अभी भी मानते हैं कि गुरमीत राम रहीम गलत नहीं हैं, उन्हें फंसाया गया है। गुरमीत सिंह के कई भक्तों के आंखों में अंधविश्वास का पर्दा डला हुआ है वो कोर्ट के फैसले से भी नहीं जागे हैं।
पंजाब के बठिंडा के सलबतपुरा में डेरा सच्चा सौदा के प्रभारी जोरा सिंह को गुरुवार को गिरफ्तार किया गया। उसके खिलाफ देशद्रोह और दूसरी धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। आज उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा। गुरमीत राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद बठिंडा में हिंसा भड़काने वालों में जोरा सिंह का भी नाम है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top