0
मुंबई। दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर पर केंद्रित फिल्म रिलीज होने से पहले ही कानूनी पचड़े में पड़ गई है। दरअसल, इस फिल्म की लीड एक्ट्रेस श्रद्धा कपूर और एक निर्माता के खिलाफ धोखाधड़ी और आपराधिक विश्वासघात का मामला दर्ज करवाया गया है। उधर, हिंदू सेना ने भी फिल्म पर आपत्ति उठाई है। गृह मंत्रालय को लिखे पत्र में सेना ने फिल्म की फंडिंग की जांच की मांग की है। सेना ने पत्र में कहा है कि इस फिल्म के जरिए माफियाओं का महिमामंडन किया जा रहा है।
ये मामला इस फिल्म के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइन करने वाली कंपनी ने दर्ज करवाया है। कंपनी के मुताबिक, फिल्म के निमार्ताओं से कॉस्ट्यूम डिजाइन करने के अलावा इस बात की भी डील हुई थी कि  प्रमोशन के दौरान श्रद्धा कपूर कंपनी के ही ब्रांड लेवल को प्रमोट करेंगी। डील के मुताबिक, एमएंडएम डिजाइंस नाम की फर्म ने फिल्म हसीना में श्रद्धा कपूर के लिए ड्रेसिस डिजाइन की। इस कंपनी ने फिल्म में श्रद्धा और बाकी एक्टर्स के कॉस्ट्यूम तैयार करने पर करीब 40 लाख रुपये खर्च कर दिए। इस मामले से जुड़े वकील रिजवान सिद्दीकी ने कहा कि डिजाइनर फर्म हसीना नाम से अपनी क्लोदिंग लाइन भी शुरू कर दी थी लेकिन अब तो फिल्म भी रिलीज होने वाली है।
एडवोकेट रिजवान ने कहा, 'हम सिर्फ ये चाहते हैं जो भी कंपनी का नुकसान हुआ है और जो भी पिछने कुछ दिनों से झेलना पड़ा है उसकी भरपाई हो। श्रद्धा कपूर की टीम का कहना है कि कपंनी द्वारा की गई शिकायत में ऐसा कोई भी एग्रीमेंट नहीं है जो उनके आरोप को सिद्ध कर सके। उन्होंने ये भी कहा कि श्रद्धा तो यह भी नहीं जानती कि ये लोग कौन है?
हिन्दू सेना की ओर से गृह मंत्रालय को लिखे पत्र में फिल्म के प्रोमों में दिखाए गए कंटेंट को लेकर आपत्ति जताई है। इस खत में लिखा है कि प्रोमो में दाऊद इब्राहिम के मामले में मुंबई पुलिस की कार्यवाही को कमजोर बताया गया है। पुलिस की छवी को गलत तरीके से दिखाते हुए मुंबई ब्लास्ट 1993 के दोषी दाऊद के परिवार के प्रति सहानुभूति भी दिखाई जा रही है। फिल्म हसीना पारकर में श्रद्धा कपूर बहुत ही अलग अंदाज में नजर आने वाली हैं। इस फिल्म के लिए श्रद्धा ने जमकर मेहनत की है। फिल्म की कहानी दाऊद इबराहिम की बहन हसीना पारकर पर अधारित है। यह फिल्म 22 सितंबर को रिलीज होने जा रही है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top