0
नई दिल्ली। पूर्व मंत्री दिग्विजय सिंह के बाद अब पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके फॉलोवर्स के खिलाफ अश्लील ट्वीट किया है. तिवारी ने नरेंद्र मोदी का नाम लेते हुए अपशब्द लिखे।  मनीष तिवारी के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से किए गए ट्वीट में पीएम मोदी का नाम लेते हुए बेहद गंदे शब्दों का इस्तेमाल किया गया है।  इस ट्वीट की भाषा और शब्दावली लगभग वही है जो पूर्व मंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा था।  इससे पहले कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए गालीगलौज वाली फोटो ट्वीट की थी।

ट्वीट का सिलसिला तब शुरू जब मनीष तिवारी ने नरेंद्र मोदी से संबंधित एक विडियो शेयर किया।  इसमें पीएम मोदी राष्ट्रगान के दौरान चलते हुए दिखाई दिए।  यह विडियो शेयर करना मोदी फॉलोवर्स को रास नहीं आया और एक व्यक्ति ने मनीष तिवारी को भड़काऊ भाषा में रिप्लाई किया।  दीपक कुमार सिंह नाम के उस व्यक्ति ने ट्वीट किया कि, आप मोदी को देशभक्ति न सिखाइए चाचा? उन्हें महात्मा गांधी भी नहीं सिखा सकते।  मोदी के डीएनए में। । बस आप कितने नीचे गिर सकते हो देख लिया।  इसी ट्वीट पर कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने अश्लील भाषा में जवाब दिया और दिग्विजय सिंह के ट्वीट से शब्दावली लेते हुए मोदी के फॉलोवर्स को भक्तों कहा।  साथ ही दीपक कुमार सिंह के ट्वीट की उस लाइन का मजाक उड़ाया जिसमें उसने कहा था कि? नरेंद्र मोदी को महात्मा गांधी भी देशभक्ति नहीं सिखा सकते हैं।
बीजेपी ने इस ट्वीट का आलोचना की है।  बीजेपी के अनुसार कांग्रेस नेताओं के असली चेहरे अब सामने आ रहे हैं। सुब्रमण्यम स्वामी ने इसके जवाब में कहा कि हम मनीष तिवारी को जानते हैं, वह एक समझदार इंसान हैं।  लेकिन लगता है उन्हें कांग्रेस के अर्द्धसाक्षर नेताओं से ऐसा करने के लिए कहा गया है।  वे लोग बीजेपी को मजबूत बनते देख दुखी हो रहे हैं।
बीजेपी के साथ साथ वामपंथी दल सीपीआई ने भी मनीष तिवारी के बयानों की निंदा करते हुए राजनेताओं को सामाजिक और राजनीतिक जीवन में शालीनता का परिचय देने की नसीहत दी।  बीजेपी के नेता प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि, "यह बहुत दुखद है। कांग्रेस इतने वर्षों तक सत्ता में रही है और मनीष तिवारी एक वकील हैं, पूर्व सूचना प्रसारण मंत्री हैं और कांग्रेस के आधिकारिक प्रवक्ताओं में से एक हैं। ऐसे में जब इस प्रकार के शब्दों का प्रयोग किया जाता है,  तो बहुत दुख होता है कि राजनीति का स्तर आखिर कांग्रेस में कहां चला गया है।" सीपीआई के डी राजा ने कहा कि भले ही प्रधानमंत्री और उनकी विचारधारा से मतभेद हो, लेकिन वह देश के प्रधानमंत्री हैं ऐसे में उनके खिलाफ किसी भी शब्द का इस्तेमाल करने से पहले भाषा पर नजर जरुर डालनी चाहिए।
वहीं शाहनवाज हुसैन ने कहा कि कांग्रेस हर लिमिट क्रॉस कर रही है।  कांग्रेस नेता द्वारा किया गया यह ट्वीट और उसकी भाषा देश के लोगों को नहीं स्वीकार होगा।  राजनीति में मतभेद हो सकते हैं, लेकिन पीएम के खिलाफ ऐसी भाषा का प्रयोग जायज नहीं है।  सोनिया गांधी और राहुल गांधी दोनों इस मुद्दे पर चुप हैं।  आज पीएम नरेंद्र मोदी का जन्मदिन है और उनके कई फॉलोवर्स ट्विटर पर उनको बर्थडे की बधाई दे रहे हैं।  वहीं कांग्रेस नेता के इस ट्वीट ने विवादों को जन्म दे दिया है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top