0
रियो डि जेनेरियो। ब्राजीली अधिकारियों का दावा है है कि देश के ओलंपिक प्रमुख ने अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) को रिश्वत देकर रियो ओलंपिक की मेजबानी हासिल करने की साजिश रची थी। ब्राजील पुलिस ने एक बयान में कहा कि वे अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार की जांच कर रहे हैं, जो 2016 ओलंपिक की मेजबानी रियो को देने के लिए वोट खरीदने के मकसद से किया गया था। कई देशों में नौ महीने तक की गई जांच में पता चला है कि कुछ धांधली हुई है।

पुलिस ने कहा कि ब्राजील ओलंपिक के प्रमुख कार्लोस नुजमैन को पूछताछ के लिए बुलाया गया और उनके घर की तलाशी ली गई। अभियोजकों ने बताया कि नुजमैन को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया, हालांकि उनकी गिरफ्तारी नहीं हुई। लेकिन उनका पासपोर्ट जब्त कर लिया गया। इसके अलावा व्यवसायी आर्थर सोरेस की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया गया, जिसे रियो सरकार ने ओलंपिक से पहले मोटी रकम वाले ठेके दिए थे।
उनकी पूर्व सहयोगी एलियेने परेरा कावालकेंटे को भी रियो में गिरफ्तार किया गया। उधर, स्विटजरलैंड के लुसाने में आईओसी के एक प्रवक्ता ने हैरानी जताते हुए कहा कि आईओसी को मीडिया से इसके बारे में पता चला है और हम पूरी जानकारी हासिल करने के प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आईओसी को इस मामले में स्पष्टीकरण हासिल करना ही होगा।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top