0
सिरसा। बलात्कारी बाबा और उनके डेरे के अस्पताल पर कई मामलों में गलत तरीके से गर्भपात को अंजाम दिए जाने का मामला सामने आया है।
कुछ दिनों पहले तलाशी के दौरान हरियाणा स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पाया कि डेरे के अंदर के अस्पताल शाह शतनाम सुपर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल में साल 2015 से लेकर अबतक कम से कम 5 से 6 केस ऐसे पाए गए हैं जिनमें गर्भपात करने के लिए कानून का पालन नही किया गया।
हरियाणा के डीसी प्रभजोत सिंह ने कहा है कि उन्हें कुछ मामलों के बारे में जानकारी हाथ लगी है जिनमें कानून में बताए गए तरीकों का पालन किए बिना ही गर्भपात को अंजाम दिया गया है जो बहुत बड़ी लापरवाही है। डीसी का कहना है कि अभी आगे की जांच अभी चल रही है।
हालांकि, सूत्रों के का दावा है कि 2015 का बाद से कई मामलों में इस तरह की लापरवाही बरती गई है जिनमें गर्भपात के पहले किसी भी तरह की जांच पड़ताल नहीं की गई और एक ही मामले में गर्भपात से पहले और बाद में अलग-अलग तरह की रिपोर्ट्स भी बनाई गई।
फिलहाल अस्पताल प्रशासन को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है और अगर अस्पताल के डॉक्टर इस मामले में दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें 3 साल तक जेल की सजा हो सकती है। अगर गलत दस्तावेज बनाने के भी दोषी पाए जाते हैं तो 6 से 7 साल तक की जेल हो सकती है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top