0

वर्ष 2018 के आखिर तक सभी तीन लाख कर्मचारी सेवा देने लगेंगे

नई दिल्ली। इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आइपीपीबी) शुरू करने की तैयारी हो रही है। अगले साल के अंत तक देश के सभी 1.55 डाकघर और इनके करीब तीन लाख कर्मचारी वित्तीय सेवाएं प्रदान करेंगे। इन कर्मियों में सभी डाकिये और ग्रामीण डाक सेवक शामिल हैं। आपीबीबी के सीईओ एपी सिंह ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि अगले साल मार्च तक देश के हर जिले में इस पेमेंट बैंक की मौजूदगी होगी। पेमेंट बैंक भुगतान से जुड़ी सेवाओं के अलावा एक लाख रुपये तक की जमा राशि स्वीकार कर सकते हैं।
वित्तीय समावेशन पर संयुक्त राष्ट्र संघ के एक कार्यक्रम में आपीबीबी के सीईओ एपी सिंह ने कहा, मार्च 2018 तक देश के हर जिले में हमारा पोस्ट बैंक होगा और वर्ष 2018 के अंत तक देश के सभी 1.55 लाख डाकघर, सभी डाकिए और ग्रामीण डाक सेवकों के पास इस सेवा की सुविधा देने वाले उपकरण मौजूद होंगे।
इस साल जनवरी की शुरूआत में निजी क्षेत्र की कंपनी भारती एयरटेल ने एयरटेल पेमेंट बैंक का परिचालन शुरू किया था। इसकी पहुंच देशभर के 2.5 लाख दुकानदारों तक है।
पेमेंट बैंक छोटे प्रकार के बैंक होते हैं, जो मुख्य रूप से मोबाइल फोन के माध्यम से ग्राहकों तक अपनी पहुंच बनाते हैं, इसमें सुविधाओं का लाभ लेने के लिए परंपरागत रूप से बैंक ब्रांच तक पहुंचने की जरूरत नहीं होती है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top