0
पटना। राजद सुप्रीमो लालू यादव ने एक बार फिर मोदी और नीतीश सरकार पर निशाना साधा है।  उन्होंने कहा कि, बिहार में सृजन घोटाला हुआ पर नीतीश कुमार और सुशील मोदी अब तक गद्दी पर बैठे हुए हैं।  इस घोटाले का शेयर ऊपर तक पहुंच चुका है।  कोई जांच नहीं हो रही है और हमने पटना में 'भाजपा भगाओ रैली' की तो हमें इनकम टैक्स डिपार्टमेंट से नोटिस आ गया। हमसे रैली का खर्च मांगा जा रहा है।

नोटिस भेजने पर लालू ने इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि रैली पर आरजेडी ने कोई खर्च नहीं किया है।  रैली में आने वालों को विभाग नोटिस जारी करे और खर्च पूछे।  इस कड़ी में लालू ने मोदी के कैबिनेट विस्तार पर निशाना साधा।  उन्होंने कहा कि मोदी को भी इस्तीफा दे देना चाहिए सिर्फ मंत्रियों के इस्तीफे से कोई काम नहीं चलेगा।  वहीं, नीतीश को लेकर लालू ने कहा कि ये लोग भौंकते रहते है।  बिहार में बाढ़ आई नहीं, बल्कि इसे लाया गया है।  कई बांध तुड़वाकर एक ही जाति के ठेकेदार -इंजीनियर को काम दिया और जिसके कारण बाढ़ ने विकराल रूप धारण किया।
अगर हमारी सरकार आई तो इन सभी चीजों की जांच कराएंगे किसी को नहीं छोड़ेंगे।  लालू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाढ़ पीड़ितों के स्थिति देखने के लिए किए गए दौरे पर भी तंज कसते हुए कहा की मोदी हवा खाने आए और ऊपर से ऊपर 500 करोड़ देकर चले गए।  उस पैसे को फेंक देना चाहिए।
लालू ने नोटबंदी पर बोलते हुए कहा की नोटबंदी ने तो लोगों की कमर तोड़ दी।  जीडीपी घटकर 5 तक आ गई है।  भाजपा से जुड़े बड़े-बड़े बिजनेसमैन को नोटबंदी के पहले ही सूचना दे दी गई थी।  इसी वजह से करोड़ों नए नोट बरामद किए गए थे।  जीएसटी पर भी सरकार फेल है।  महंगाई तो और भी बढ़ गई।   कहते थे की नोटबंदी से कश्मीर में पत्थरबाजी रुक जाएगी नक्सलियों से पैसा कूड़ा हो जाएगा लेकिन क्या हुआ।  कुछ भी नहीं उल्टा पत्थरबाजी बढ़ गई।  बीते तीन सालो में मोदी सरकार ने कोई काम नहीं किया है सरकार बनने से पहले बड़े-बड़े दावे किए गए थे, लेकिन मोदी और शाह ने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया।  देश में बेरोजगारी बढ़ रही है लोगो को पांच हजार का भी जॉब नहीं मिल रही है।
लालू ने शरद यादव का पक्ष लेते हुए कहा कि शरद यादव हम सबका नेता है।  हम साथ रहे हैं।  शरद यादव के चक्रव्यूह  में नीतीश फंस गए है ऐसी स्थिति हो रही है की राजनीति ने नीतीश फिनिश हो जाएंगे।
सुशील मोदी पर भी लालू ने जमकर हमला बोला।  उन्होंने कहा, 'क्या सुशील मोदी हमें पोलटिक्स सिखाएगा।  उन्हें नीतीश को साइड कर आगे बढ़ना चाहिए, कब तक स्टेपनी बने रहेंगे।  हाल ही में सुशील मोदी ने यह बयान दिया था कि तेज प्रताप को लालू का उत्तराधिकारी बनकर तेजस्वी को साइड कर देना चाहिए।
लालू ने कहा कि नीतीश और बीजेपी मेरे खिलाफ साजिश कर रहे हैं।  सभी लोग जानते है की लालू को फिनिश नहीं किया जा सकता, इसीलिए परेशान कर रहे है।  गौरतलब है कि लालू यादव की रांची में चारा घोटाले के चार मामले में सुनवाई चल रही है।  जिसमें देवघर, दुमका, डोरंडा और चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी का आरोप है।  फिलहाल हर सुनवाई में कोर्ट में गवाहों को पेश किया जा रहा है।  पूरे मामले में 400 से भी ज्यादा गवाह है जिनकी गवाही कोर्ट में दर्ज करनी है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top