0
मुंबई। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कास्कर को उगाही के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है। मंगलवार को मुंबई पुलिस कमिश्नर ने खुद इस संबंध में तमाम पहलुओं पर जानकारी दी। अब इस गैंग से एनसीपी नेताओं के नाम जुड़ने की बात सामने आ रही है।
एक तरफ जहां ये खुलासा हुआ है कि इकबाल की गैंग के लोग दाऊद के नाम से लोगों को डराने-धमकाने का काम करते थे। वहीं उनकी इस काली करतूत में कुछ नेताओं की सांठ-गांठ का भी पुलिस ने जिक्र किया है।
जानकारी आ रही है कि इकबाल गैंग के वसूली और जमीनों पर कब्जे के धंधे में शरद पवार की पार्टी एनसीपी के दो नेता भी शामिल हो सकते हैं। दोनों ही नेता ठाणे के बताए जा रहे हैं। जिन पर पुलिस की नजर है।
मुंबई पुलिस कमिश्नर ने खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस में गैंग के साथ नेताओं की सांठ-गांठ की बात कही थी। उन्होंने इस बात की आशंका जताई थी कि कुछ नेता भी जमीनों पर कब्जे कराने और लोगों को धमकाने जैसी करतूतों में गैंग का साथ दे रहे थे। उन्होंने बताया था कि गैंग की मदद करने में लोकल नेताओं के नाम सामने आए हैं। इनमें कई पार्षद स्तर के नेता हैं।
हालांकि, इकबाल गैंग के साथ कितने नेता जुड़े हैं और वो किस भूमिका में गैंग का साथ दे रहे थे, इस पर अभी कोई पुख्ता जानकारी पुलिस नहीं दे पाई है।
गैंग के लोग दाऊद के नाम पर बिजनेसमैन और प्रॉपर्टी डीलर को डराकर उनसे पैसा वसूलते थे।  गैंग में 10 से 20 लोगों को चिह्नित किया गया है। इस मामले में दाऊद के भाई इकबाल को सोमवार शाम गिरफ्तार किया गया था। इकबाल के अलावा ड्रग्स डीलर यानीन को भी गिरफ्तार किया गया है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top