0

वाराणसी। बीएचयू के चीफ प्रॉक्टर प्रोफेसर ओएन सिंह ने छात्राओं पर लाठीचार्ज की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए त्यागपत्र दे दिया है। अब विश्वविद्यालय के कुलपति (वीसी) गिरीश चंद्र त्रिपाठी भी जांच दायरे में हैं। हालांकि उनका रिटायरमेंट भी करीब है। सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे मामले पर कड़ा संज्ञान लिया है। चीफ प्रॉक्टर ने अपना इस्तीफा मंगलवार रात वीसी को सौंपा। वीसी ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के जज वीके दीक्षित को हिंसा की जांच के आदेश दिए हैं। ज्ञात हो कि ओएन सिंह को वीसी का करीबी बताया जाता है। यहां उल्लेखनीय है कि पुलिस लाठीचार्ज के दौरान बीएचयू के कई विद्यार्थियों को चोट लगी। इस मामले में राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने भी मुख्य सचिव, डीजी और वीसी को नोटिस जारी किया है। इस बीच बीएचयू में फिलहाल छुट्टी कर दी गयी है। विद्यार्थियों से हॉस्टल खाली करा दिया गया है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top