0

दिल्ली में रांची राजधानी एक्सप्रेस, सोनभद्र में शक्तिपुंज बेपटरी 

दिल्ली/सोनभद्र। भारतीय रेल दुर्घटनाओं का रिकार्ड बनाती जा रही है। पीयूष गोयल के रेलमंत्री बनने के बाद दुर्घटनाओं का सिलसिला फिर शुरू हो गया है। आज छह घंटे के अंदर दो रेल हादसे हुए। हालांकि इनमें जान-माल का नुकसान होने की खबर नहीं है। इस महीने चार रेल हादसे हो चुके हैं। आज दिल्ली में शिवाजी ब्रिज स्टेशन के पास रांची राजधानी एक्सप्रेस का इंजन और एक पावर कार पटरी से उतर गई। उधर उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में हावड़ा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस के सात डिब्बे पटरी से उतर गए थे। हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ।
शक्तिपुंज एक्सप्रेस के बेपटरी हए डिब्बों में एसी फर्स्ट क्लास, तीन स्लीपर, दो जनरल और एसएलआर के डिब्बे शामिल थे। रेल अधिकारियों के मुताबिक, यह दुर्घटना सुबह करीब साढ़े छह बजे ओबरा के पास छपराकुंड स्टेशन के निकट हुई। रेलगाड़ी पश्चिम बंगाल के हावड़ा से मध्य प्रदेश के जबलपुर जा रही थी।
पूर्वी मध्य रेलवे के प्रवक्ता राजेश कुमार का कहना है कि प्रभावित डिब्बों में फंसे सभी यात्रियों को रेलगाड़ी के अन्य डिब्बों में स्थानांतरित करके मध्यप्रदेश के सिंगरौली पहुंचाया गया। शक्तिपुंड को यात्रियों के साथ सुबह करीब 7.30 बजे दुर्घटना स्थल से रवाना कर दिया गया। महाप्रबंधक और अन्य शीर्ष अधिकारी दुर्घटनास्थल पर तत्काल पहुंच गए और रेल यातायात को बहाल करने का काम जारी है। फिलहाल हादसे का कारण स्पष्ट नहीं हैं। बताया जा रहा है कि रेल की पटरी में क्रैक था, जिसकी वजह से ये हादसा हुआ। मामले की जांच जारी है। यह एक महीने में चौथा और पीयूष गोयल के रेल मंत्री का पद संभालने के बाद पहला रेल हादसा है। एक महीने से भी कम समय में ट्रेन के पटरी से उतरने का यह चौथा हादसा है। मुजफ्फरनगर जिले के खतौली के पास उत्कल एक्सप्रेस बेपटरी हो गई थी। इसमें 30 के करीब यात्रियों की जान गई थी। कुछ दिन पहले ही औरैया के पास कैफियत एक्सप्रेस डंपर से टकराकर बेपटरी हो गई थी। इस हादसे में भी तकरीबन 80 लोग घायल हुए थे।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top