0
चंडीगढ़। डेरा प्रमुख की गिरफ्तारी के बाद उनके पूरे डेरे की तलाशी का काम चल रहा है। माना जा रहा है कि डेरा के खेतों से कई लोगों के कंकाल या फिर अस्थियां मिल सकती है। चौंका देने वाले एक घटनाक्रम में डेरा सच्चा सौदा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने हरियाणा पुलिस को बताया है कि डेरे के करीब 300-400 अनुयायियों ने पिछले कुछ वर्षों में अपने मृत परिजन का अंतिम संस्कार करने के बाद उनकी अस्थियों को डेरा मुख्यालय में ही बिखेर दिया। मीडिया में आयी उन खबरों के बारे में कि डेरा परिसर में कंकालों को दबा दिया जाता था, डबवाली के डीएसपी कुलदीप सिंह बेनीवाल के नेतृत्व वाली सिरसा एसआईटी ने कहा, हमारे संज्ञान में ऐसा कोई तथ्य नहीं आया है। हरियाणा पुलिस की एक विशेष जांच टीम ने मंगलवार शाम डेरा सच्चा सौदा की प्रबंध समिति के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पी आर नैन से सिरसा में ढाई घंटे तक पूछताछ की। डीएसपी ने फोन पर को बताया, एक वरिष्ठ पदाधिकारी होने के कारण नैन से डेरा से जुड़े विभिन्न विषयों पर पूछताछ की गयी। उनसे पंचकूला और सिरसा में एकत्र हुए लोगों के बारे में भी पूछताछ की गयी। डीएसपी ने बताया, नैन डेरा के कृषि विभाग की भी जिम्मेदारी संभाल रहे थे उन्होंने कहा कि कुछ अनुयायी अस्थियां लाते थे और अनुष्ठान के तहत डेरा परिसर में इसे बिखेर देते थे। उन्होंने कहा, नैन ने यह भी बताया कि पिछले कई सालों से इन परिसरों में 300-400 अनुयायियों ने अपने परिजनों की अस्थियां रखीं थी। डेरा ने ऐसे लोगों का पता और अन्य संपर्क ब्यौरा रखा है। उन्होंने बताया कि नैन से विस्तार से पूछताछ की गयी और अगर जरूरत हुयी तो उसे फिर पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा। 

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top