0

कोई हताहत नहीं

काबुल। अमेरिकी रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस के अफगानिस्तान की राजधानी में पहुंचने के चंद घंटों बाद ही काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर कम से कम 20 रॉकेट दागे गए। काबुल हवाईअड्डे के प्रमुख याकूब रसाउली ने कहा कि रॉकेट के जरिए उत्तरी हिस्से के वायुसेना के हैंगरों को निशाना बनाया गया। मिसाइलें काबुल के देह सब्ज जिले से दागी गई थीं।
रसाउली ने कहा, सुबह 11.36 पर दो मिसाइलें काबुल हवाईअड्डे पर दागी गईं। इससे हैंगरों को नुकसान पहुंचा और एक हेलीकॉप्टर नष्ट हो गया। साथ ही तीन अन्य हेलीकॉप्टरों को हल्का नुकसान पहुंचा है, लेकिन किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है।
घटना के बाद सैन्य हेलीकॉप्टर घटना स्थल के ऊपर मंडराने लगे और हवाईअड्डे का सायरन बजने लगा। इसके बाद छिटपुट गोलीबारी हुई। सुरक्षा बलों ने हमलावरों के लिए एक तलाशी अभियान शुरू किया। अभी तक किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। अफगानिस्तान में नाटो मिशन ने कहा कि रक्षामंत्री मैटिस व नाटो प्रमुख काबुल में नाटो मुख्यालय पर पहुंचे हैं। वहां वे अंतरराष्ट्रीय जवानों का निरीक्षण करेंगे और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी सहित अफगान अधिकारियों से मिलेंगे। 

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top