0
पंचकूला। गुरमीत राम रहीम 20 साल कैद की सजा भुगत रहा है। जेल में उसकी क्या दिनचर्या है और वो किस तरह से रह रहा है, ऐसी तमाम बातों पर प्रकाश डाला पंचकूला के डीजी जेल केपी सिंह ने। पंचकूला में अपने दफ्तर में प्रेसवार्ता के जरिए उन्होंने राम रहीम से जुड़ी अफवाहों की सच्चाइयों को सामने ला दिया।
डीजी के मुताबिक राम रहीम के रोने-पीटने जैसी मीडिया में उड़ाई जा रही खबरें पूरी तरह से भ्रामक हैं। वो पूरी तरह से स्वस्थ है। जेल प्रशासन की ओर से राम रहीम को खेतीबाड़ी का काम दिया गया है और 20 रुपए की दिहाड़ी पर वह काम कर रहा है। उसका बर्ताव भी एक अनुशासित कैदी की तरह ही है।वहीं हनीप्रीत के डेरा प्रमुख से मिलने की बात पर केपी सिंह ने कहा कि हनीप्रीत सुनारिया जेल नहीं आई जबकि राम रहीम की मां ने बेटे से अकेले मुलाकात की है। दोनों को शीशे के जरिए मिलाया गया।केपी सिंह ने बताया कि राम रहीम जेल में कैसे रह रहा है, क्या खाता है, क्या काम कर रहा है ऐसी तमाम बातों पर कई तरह की अफवाहें या बातें सुनने को मिल रही हैं। लेकिन वो एक आम कैदी की तरह जीवन जी रहा है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top