0

छापेमारी के समय और जगह पर उठाए सवाल

नई दिल्ली। राज्य सभा चुनाव की पूर्व बेला में कर्नाटक में कांग्रेस मंत्री के घर पर आयकर विभाग की छापेमारी का मुद्दा आज संसद में भी उठा। संसद की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष इस मुद्दे पर हंगामा करने लगा। विपक्ष ने छापेमारी के समय और जगह पर सवाल उठाए। लोकसभा में कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, आईटी अधिकारियों को भेजकर हमारे विधायकों को डराया और धमकाया जा रहा है।  

विपक्ष के हंगामे के बाद सरकार की ओर से अरुण जेटली ने कहा कि किसी भी रिजॉर्ट में किसी भी विधायक की तलाशी नहीं ली गई है। उन्होंने कहा कि सिर्फ एक मंत्री के खिलाफ छापेमारी हुई है। जेटली के जवाब के बाद राज्यसभा में कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि अब राज्य की शक्तियों का दुरुपयोग करने की एक प्रवृति बन गई है। उन्होंने कहा कि मंत्री और उनके भाई जो गुजरात के विधायकों को ठहराने में सहयोग कर रहे हैं। उन्हें इस समय क्यों निशाना बनाया जा रहा है। उन्होंने सवाल पूछा कि आखिर समय और उसी जगह पर जहां गुजरात के विधायक ठहरे हुए हैं छापेमारी क्यों की गई।
कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि पहले सिर्फ गुजरात में डर का माहौल था, अब वह माहौल दक्षिण के राज्यों में भी दिख रहा है। उन्होंने कहा कि ये छापेमारी आज ही क्यों हुई, ये एक बड़ा सवाल है।
उन्होंने कहा कि भाजपा विधायकों को पैसा बांट रही है, उन पर रेड होनी चाहिए। इसके जरिए राज्यसभा के चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश हो रही है। चुनाव आयोग को सही चुनाव करवाने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top