0
न्यू जर्सी। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर वो अमेरिका के साथ कुछ करता है तो उसका बुरा हश्र होगा। उसे बहुत-बहुत घबराने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो वह ऐसी परेशानी में होगा जैसी बहुत कम ही राष्ट्रों ने देखी है।  उत्तर कोरिया के अमेरिकी क्षेत्र गुआम पर चार मिसाइल दागने की चेतावनी देने के बाद ट्रंप का ये बयान आया है।
जुलाई में अंतर महाद्वीपीय मिसाइलों के दो परीक्षणों के बाद से अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच तनाव बहुत ज्यादा बढ़ गया है। उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को आगे बढ़ाने की वजह से संयुक्त राष्ट्र ने भी उस पर नए आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए हैं। गुरुवार को न्यू जर्सी में बोलते हुए डोनल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका उत्तर कोरिया से बातचीत के लिए हमेशा तैयार है।

राष्ट्रपति ट्रंप ने ये भी कहा कि उत्तर कोरिया को लेकर उनके बयान बहुत ज्यादा सख्त नहीं हैं। इसी सप्ताह ट्रंप ने कोरिया पर आग बरसाने की चेतावनी भी दी थी। राष्ट्रपति ट्रंप की चेतावनियों को उत्तर कोरिया बकवास बताता रहा है। ट्रंप की चेतावनी पर प्रतिक्रिया देते हुए उत्तर कोरिया ने कहा था कि तर्कहीन ट्रंप से सिर्फ शक्ति से ही निबटा जा सकता है।
ट्रंप ने पिछली सरकारों पर उत्तर कोरिया के प्रति कमजोर नजरिया अपनाने के आरोप भी लगाए और कहा कि उत्तर कोरिया को हथियार बनाने देना एक त्रासदी है। ट्रंप ने ये भी कहा कि चीन उत्तर कोरिया के मुद्दे पर बहुत कुछ कर सकता है।
जब ट्रंप से पूछा गया कि क्या अमरीका उत्तर कोरिया पर पहले परमाणु हमले कर सकता है तो उन्होंने कहा कि हम इस बारे में बात नहीं करते हैं, हमने कभी ये बात नहीं की है। लेकिन उन्होंने कहा, मैं आपको बताता हूं, यदि उत्तर कोरिया हम पर, हमारे किसी प्रियजन पर, हमारा प्रतिनिधित्व करने वालों पर या किसी सहयोगी पर हमला करने के बारे में सोचता भी है तो उसे बहुत-बहुत घबराना चाहिए। मैं आपको बताता हूं क्यों... क्योंकि उसका वो हश्र होगा जो उन्होंने कभी सोचा भी नहीं होगा। ट्रंप ने कहा, मैं आपको ये भी बताता हूं कि या तो उत्तर कोरिया अपनी हरकतों से बाज आ जाए नहीं तो वह ऐसी परेशानी में होगा जैसी बहुत कम ही देशों ने अब तक झेली है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top