0
मुंबई। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ट्रेजडी किंग दिलीप कुमार को शुक्रवार को सुबह शरीर में पानी की कमी और मूत्र नली में संक्रमण की शिकायत के बाद लीलावाती अस्पताल के आइसीयू में भर्ती कराया गया है।  लीलावती हॉस्पिटल के मेडिकल सुपरीटेंडेंट डॉ सीताराम गावडे ने कहा है कि वे अबतक आइसीयू में हैं और उनकी स्थिति अभी स्टेबल है, डॉक्टर लगातार उनके स्वास्थ्य की निगरानी कर रहे हैं। उनके स्वास्थ्य में अभी कुछ जटिलताएं हैं। दिलीप कुमार के स्वास्थ्य के लिए पूरा देश दुआएं कर रहा है।
94 वर्षीय दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार को बुधवार को लीलावती अस्पताल के जनरल वार्ड में भर्ती कराया गया था। उस समय उन्हें डिहाइड्रेशन व किडनी से जुड़ी समस्याएं बतायी गयी थीं। शुक्रवार को उन्हें आइसीयू में भर्ती कराया गया है, ताकि नसों के माध्यम से उनका मेडिकेशन किया जा सके। अस्पताल सूत्रों के अनुसार उनकी किडनी ठीक से काम नहीं कर रही है।
हॉस्पिटल के सीइओ डॉ रविशंकर ने कहा है कि वे दिल्ली से भी डॉक्टरों व मेडिकल सुपरीटेंडेंट के माध्यम से दिलीप कुमार के स्वास्थ्य पर पर नजर रखे हुए हैं। उन्होंने कहा है कि उनके शरीर का डिहाइड्रेशन ही परेशानी का एकमात्र बड़ा कारण है। क्योंकि, डिहाइड्रेशन किडनी व शरीर के अन्य दूसरे अंगों पर असर करता है। इसके अलावा उन्हें कोई बड़ी परेशानी नहीं है।
दिलीप कुमार की पत्नी सायरा बानो ने कहा है कि, हमें उनके स्वास्थ्य के लिए प्रार्थना करनी होगी की वह जल्द स्वस्थ हों। इंशाअल्लाह, वह स्वस्थ होंगे। डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं। फिल्मों में अपनी त्रासद और दु:खद भूमिकाओं के लिए मशहूर दिलीप कुमार को ट्रेजिडी किंग भी कहा जाता है।
उन्हें भारतीय फिल्मों के सर्वोच्च सम्मान दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इसके अलावा दिलीप कुमार को पाकिस्तान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान निशान-ए-इम्तियाज से भी सम्मानित किया गया है। दिलीप कुमार का असली नाम मुहम्मद युसुफ खान है। उनका जन्म पेशावर में हुआ था। विभाजन के वक्त उनके पिता मुंबई आ बसे थे और यहीं से उन्होंने हिंदी फिल्मों मे काम करना शुरू किया। उनकी उल्लेखनीय फिल्मों में अंदाज , आन , मधुमति , देवदास , मुगल-ए-आजम , गंगा जमुना , क्रांति  और कर्मा आदि हैं। उनकी आखिरी फिल्म किला साल 1998 में रिलीज हुई थी।
दिलीप कुमार को 1994 में भारतीय सिनेमा के सबसे बडे सम्मान दादा साहब फाल्के अवार्ड और 2015 में दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया जा चुका है। पद्म विभूषण देने के लिए खुद गृहमंत्री राजनाथ सिंह मुंबई उनके घर गये थे। दिलीप कुमार ने मशहूर अदाकारा सायरा बानो से साल 1966 मे शादी की थी। शादी के समय दिलीप कुमार 44 वर्ष और सायरा बानो की 22 वर्ष की थीं। दोनों हर मोड़ पर एकदूसरे के साथ रहे हैं। उनकी अपनी कोई संतान नहीं है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top