0

दंगाइयों को दिल्ली की गद्दी से उतार कर रहेंगे: लालू

पटना। लालू यादव ने आज पटना में राजद की रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने रैली में पहुंचे पार्टी समर्थकों और नेताओं से कहा कि नीतीश कुमार ने दियरा, राघोपुर, हाजीपुर और छपरा के बालू कारोबारियों का जान मारा है। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा, फासिस्ट और कम्यूनल दंगाई वाली ताकत को दिल्ली की गद्दी से उतार देंगे। उसको उतारने के लिए ही बिहार में महागठबंधन बनाया था, लेकिन आज नीतीश महागठबंधन का साथ छोड़कर भाजपा के साथ चले गये। नीतीश पर हमला तेज करते हुए उन्होंने कहा कि वे जानते थे यह आदमी ठीक नहीं है। हमारे सामने देश टूट रहा था। राम रहीम के बंदों में नफरत हो रहा था। हमने नीतीश को टीका लगाया था आशीर्वाद दिया था। केंद्र में मंत्री बनवाये शरद यादव और आज उन्हीं के खिलाफ नीतीश कुमार समेत जदयू के अन्य नेता बयानबाजी कर रहे है।
लालू ने आरोप लगाते हुए कहा कि नीतीश को तेजस्वी के काम करने से मिल रही तारीफ से जलन हो रही थी। नीतीश कुमार ने मेरे घर पर आकर समर्थन मांगा था और मैंने उन्हें मुख्यमंत्री बनाया। नीतीश के मन में शुरू से ही चोर था। नीतीश को तेजस्वी यादव से खतरा था। दिल्ली जाकर भाजपा के सभी वरिष्ठ नेताओं से मिले थे नीतीश कुमार। बिहार की बेटी मीरा कुमार को नीतीश कुमार ने वोट नहीं दिया। अगर जदयू ने समर्थन दिया होता तो आज मीरा कुमार जो बिहार की बेटी है आज देश की राष्ट्रपति होती। लोग हमसे पूछते थे कि नीतीश कुमार भाजपा में शामिल हो जायेंगे क्या। मैं कहता था, नहीं वे ऐसा नहीं करेंगे, लेकिन नीतीश ने पीठ में छुरा घोंपकर भाजपा के साथ दोबारा से मिलकर सरकार का गठन कर लिया।
नीतीश कुमार कहते थे कि हम मिट्टी में मिल जायेंगे, लेकिन भाजपा के साथ नहीं जायेंगे। मुझे अफसोस है कि भाजपा ने नीतीश कुमार को हाथी के सुड़ में लपेट लिया है और उनको जल्द ही उठाकर फेंक दिया जायेगा। लालू ने आगे कहा, बाढ़ के बहाने पीएम मोदी बिहार में भ्रमण करने आये थे, लेकिन नीतीश कुमार के भोज में शामिल होने के लिए पटना नहीं आएं। उन्होंने कहा, नीतीश कुमार जब बीमार पड़े तो समझो कुछ बड़ा होगा। हम समझ जाते है कि वो हमसे दूरी बना रहे है। चारा मामले में पेशी के लिए जब हम रांची गये थे हमारे पटना आवास पर सीबीआइ का छापा पड़ गया। लालू यादव ने कहा कि बिना राज्य सरकार के अनुमति के सीबीआइ छापेमारी नहीं कर सकती है।
तेजस्वी यादव के इस्तीफे के मामले पर लालू यादव ने निशाना तेज करते हुए कहा कि सृजन घोटाला के मामले में पूरा खेल सामने आने वाला है। भ्रष्टाचार के मामले पर नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए लालू ने कहा कि सृजन घोटाला मामले में सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में सीबीआइ से इस मामले की जांच करायी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि बिहार की जनता नीतीश कुमार को दोबारा चुनाव में विजयी नहीं बनाने जा रही है। यहां की आम जनता राजद को विजयी बनायेगी। शराबबंदी को लेकर लालू ने नीतीश सरकार पर हमला बोलते हुए लालू ने कहा कि हमने आगाह किया था कि बिहार में पूर्ण शराबबंदी संभव नहीं है। और ऐसा ही हुआ है, आज घर-घर शराब पहुंचाया जा रहा है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top