0

मामला दो हजार करोड़ का बकाया न चुकाने का
उद्योगपति लक्ष्मी मित्तल के भाई हैं प्रमोद मित्तल 


प्नई दिल्ली। उद्योगपति लक्ष्मी मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल ने दिल्ली हाइकोर्ट में याचिका दाखिल कर भारत सरकार के फैसले को चुनौती दी है। दरअसल बिजनेस टायकून लक्ष्मी मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल का भारत सरकार ने पासपोर्ट जब्त करने आदेश दिया है। सरकार ने पासपोर्ट जब्त करने के लिए भारतीय हाई कमीशन को कहा है। हाईकोर्ट इस मामले की सुनवाई के लिए तैयार हो गया है। दो दिन बाद शुक्रवार को इस मामले में दिल्ली हाई कोर्ट सुनवाई कर सकता है।

प्रमोद मित्तल पर आरोप है कि उन्होने स्टेट ट्रेडिंग कॉर्पोरशन इंडिया का करीब दो हजार करोड़ रुपये का बकाया अब तक नही चुकाया है। 8 अगस्त को भारत सरकार ने प्रमोद मित्तल का पासपोर्ट जब्त करने का आदेश दिया था। इस मामले में विदेश मंत्रालय ने हाइकोर्ट को दिए अपने जवाब में कहा है कि पासपोर्ट एक्ट के नियम के मुताबिक कारवाई की गई है। शुक्रवार को होने वाली सुनवाई से यह साफ होगा कि इस मामले मे प्रमोद मित्तल को कोर्ट से कोई राहत मिल सकती है या नहीं। आपको बता दे कि सीबीआई ने मित्तल और कुछ और लोगों  के खिलाफ इसी साल मार्च में एफआईआर दर्ज की है। ये एफआईआर स्टेट ट्रेडिंग कॉरपोरेशन की शिकायत पर ही दर्ज की गई थी।
प्रमोद मित्तल पर आरोप है कि 2016 से 2026 तक के लिए बनवाये गए भारतीय पासपोर्ट में उन्होंने पासपोर्ट आफिस से यह बात छुपाई कि उनके खिलाफ कोर्ट में कोई आपराधिक कार्यवाही चल रही है, जो सीधे तौर पर पासपोर्ट एक्ट का उल्लंघन है और अपराध की श्रेणी में आता है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top