0

पटना। लालू प्रसाद अपने बड़बोले अंदाज़ में नीतीश पर जमकर बरसे। उन्होंने खुद को नीतीश से सीनियर बताया। बोले मैं उसे शुरू से जानता हूं। लालू ने तंज कसते हुए कहा कि नीतीश मोदी का जय-जयकारा कर रहे हैं। दो-दो बार विधानसभा चुनाव हारे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जेपी आंदोलन के समय मैंने नीतीश को आगे किया। उन्होंने दावा किया कि वे नीतीश से ज्यादा लोकप्रिय थे।

इससे पहले नीतीश ने सोमवार को राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने एक के बाद एक कई ट्वीट करके नीतीश पर वार किए। लालू ने प्रधानमंत्री मोदी के स्टाइल में पूछा - मित्रों, क्या हत्या जैसे संगीन जुर्म में आरोपित मुख्यमंत्री को कुर्सी पर बैठने का नैतिक अधिकार है जहां मुदालय ही सीएम हो? सोमवार को ही नीतीश कुमार ने भी मीडिया के सामने आकर महागठबंधन से नाता तोड़ने और बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने के कारणों को बताया था। उन्होंने तेजस्वी यादव और लालू प्रसाद यादव पर जमकर वार किए थे। उन्होंने कहा कि जेडीयू की नीति रही है कि भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं। हमारा तेजस्वी से कहना था कि वह अपने मामले में सफाई दें लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। नीतीश ने कहा लालू अपने बेटे का बचाव करते रहे। मेरे ऊपर सवालिया निशान थे। फर्जी कंपनियों के बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं थी। तेजस्वी से मुलाकात में भी मैंने कहा था कि आरोपों पर सफाई दें लेकिन वे सीबीआई के आरोपों पर सफाई देने को तैयार नहीं थे।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top