0

इस मुद्दे पर बड़ी हिंसा फैलाना चाहता है पाक

कश्मीर। खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक घाटी में अलगाववादी सगंठन और सीमा पार की पाकिस्तान खुफिया एजेंसी आर्टिकल 35 ए के बहाने एक बड़ी साजिश रचने की तैयारी में हैं। टेरर फडिंग केस में पकड़े गए अलगाववादियों के लिए यह एक नया मुद्दा हो सकता है। पाकिस्तान चाहता है कि इस मुद्दे पर कश्मीर में बड़ी हिंसा फैलाई जाए।
जानकारी के अनुसार मंत्रियों और विधायकों पर भी हमले करवाए जा सकते हैं। साथ ही 35 ए की आड़ में युवाओं से पत्थरबाजी करवाई जा सकती है।
अनुच्छेद 35 ए के तहत संविधान की एक विशेष ताकत जम्मू-कश्मीर की विधानसभा को दी गई है। इसके तहत वह अपने आधार पर स्थायी नागरिक की परिभाषा तय कर सकते हैं। साथ ही उन्हें चिन्हित कर विभिन्न विशेषाधिकार भी दिया जा सकता है। धारा 370 जम्मू-कश्मीर को कुछ विशेष अधिकार प्रदान करता है। 1954 के एक आदेश के बाद अनुच्छेद 35 ए को संविधान में जोड़ा गया था।
नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने केंद्र सरकार को इस मामले में चेतावनी भी दी थी। उन्होंने कहा था अगर अनुच्छेद 35 ए को छेड़ा तो कश्मीर में वो होगा जो कभी नहीं हुआ। इस मसले पर उनकी पार्टी ने विपक्षी दलों की एक बैठक कर कहा था, राज्य के स्पेशल स्टेटस से छेड़छाड़ की स्थिति में पूरा विपक्ष एकजुट है और हम सभी एक साथ इसके खिलाफ आवाज उठाएंगे।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top