0

यादव के धड़े में 2 रास सांसद और कुछ केंद्रीय पदाधिकारी शामिल


पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी में बगावत करने वालों को बाहर का रास्ता दिखाना शुरू कर दिया है। जदयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव समेत पार्टी से 21 बागी नेताओं को निलंबित कर दिया है। बिहार जदयू के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने विधायक रमई राम और पूर्व एमपी अर्जुन राय समेत 21 नेताओं को पार्टी विरोधी गतिविधियां करने के लिए सस्पेंड किया है।
नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ जाने के बाद ही शरद यादव ने बागी तेवर अपना लिए थे। शरद यादव ने बिहार में 3 दिन की यात्रा भी निकाली, लगातार एनडीए के खिलाफ बातें भी की। जिसके बाद रविवार को जदयू के प्रतिनिधिमंडल ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से मिलकर पार्टी की तरफ से पत्र दिया कि शरद यादव की जगह आरसीपी सिंह राज्यसभा में संसदीय दल के नेता होंगे। वहीं इससे पहले बीते शुक्रवार को यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी की अगुवाई में विपक्ष के 16 दलों की बैठक पर जेडीयू के केसी त्यागी ने जमकर निशाना साधा था। त्यागी ने कहा कि सोनिया गांधी ने पार्टी के सांसद अली अनवर को बैठक में बुलाकर जनता दल यूनाइटेड को तोड़ने का काम किया है। पार्टी इसकी निंदा करती है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी त्यागी ने कहा कि विपक्ष की बैठक में शामिल होने पर हमारे सांसद अली अनवर को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है। यादव के करीबी सहयोगी अरुण श्रीवास्तव ने कहा कि पूर्व पार्टी अध्यक्ष के धड़े को 14 राज्य इकाइयों के अध्यक्षों का समर्थन प्राप्त है। यादव के धड़े में 2 राज्यसभा सांसद और पार्टी के कुछ राष्ट्रीय पदाधिकारी शामिल हैं। गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने हाल ही में शरद यादव को जेडीयू महासचिव के पद से हटा दिया था।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top