0
नई दिल्ली। राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती के ठिकानों पर शनिवार की सुबह प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छापेमारी की। दिल्ली में सुबह करीब 9.30 बजे ईडी ने मीसा भारती के सैनिक फर्म वाला घर, बिजवासन और घिटोरनी फॉर्म हाउस में भी छापेमारी की। ठिकानों पर पहुंची।
बताया जा रहा है कि करोड़ों के बेनामी संपत्ति मामले में ही यह कार्रवाई हुई है। बताया जा रहा है कि करीब 8 हजार करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग का ये मामला है, जिसे फर्जी शेल कंपनियों के मार्फत जुटाया गया है।
 इससे पहले शुक्रवार को सीबीआई ने लालू और उनके करीबियों के ठिकानों पर छापेमारी की थी।
लालू यादव सहित उनके करीबियों के 12 ठिकानों पर सीबीआई ने शुक्रवार को छापेमारी की थी। सीबीआई ने पुरी में रेलमंत्रालय के तहत आईआरसीटीसी द्वारा संचालित चाणक्य बीएनआर होटल के लिए जारी टेंडर में धांधली को लेकर मामला दर्ज किया है। उस दौरान 2006 में लालू रेलमंत्री थे।
घर और करीबियों के ठिकानों पर छापेमारी के बाद लालू यादव ने एक के बाद एक तीन प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जिस समय सीबीआई छापेमारी कर रही थी, लालू यादव कोर्ट में पेशी के लिए बाहर थे। लालू ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, यह कार्रवाई नरेंद्र मोदी, अमित  शाह और आरएसएस के इशारे पर की गई। वह डरने वाले नहीं है। मिट्टी में मिलने तक संघर्ष करते रहेंगे।
लालू यादव के घर पर सीबीआई के छापे पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया दी। शुक्रवार को कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इसे बदले की कार्रवाई कहा। जबकि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूरे मामले में चुप्पी साधे रखी। हालांकि इस दौरान उन्होंने राजगीर में आला अधिकारियों के साथ एक आपात मीटिंग जरूर की।
शुक्रवार की सुबह लालू यादव के घर पहुंची सीबीआई ने राबड़ी देवी, उनके बेटे और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से करीब साढ़े पांच घेट तक पूछताछ की। इस दौरान उनसे कई कागजातों की जानकारी ली गई।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top