0
दार्जिलिंग। अलग राज्य की मांग को लेकर पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग में भड़की हिंसा एक बार फिर तेज हो गई है। शुक्रवार रात को एक गोरखालैंड समर्थक की मौत हो गई। गोरखा जनमुक्ति मोर्चा ने दावा किया है कि जब तशी भूटिया मेडिकल स्टोर से लौट रहा था तो पुलिस ने उसकी हत्या कर दी। इस बीच, गोरखा नेशनल लिबरेशन फ्रंट (जीएनएलएफ) ने दावा किया है कि भूटिया उनका कार्यकर्ता था। बंद समर्थक सोनादा में धरना दे रहे थे, तब एक पुलिस गश्ती टीम नाकाबंदी को साफ करने के लिए वहां पहुंची। इसी दौरान वहां झड़प हो गई। इस दौरान पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस का दावा है कि फायरिंग नहीं की गई। प्रदर्शनकारियों ने सोनादा टॉय ट्रेन स्टेशन को फूंक दिया है। सोनादा पुलिस स्टेशन में तोड़-फोड़ भी की गई। मृतक के परिवार ने पुलिस के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। शुक्रवार की रात की घटना के बाद, शनिवार सुबह सैकड़ों लोगों ने एकत्र होकर विरोध किया है। शव अभी तक परिवार को नहीं सौंपा गया है। क्षेत्र में तनाव बरकरार है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top