0
नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक ने बचत खाते में एक करोड़ रुपये तक की जमा राशि पर ब्याज दर को आधा प्रतिशत घटाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया। यह कदम रिजर्व बैंक की मौद्रिक समीक्षा से पहले  उठाया है। हालांकि, बैंक ने कहा है कि वह बचत खाते में एक करोड़ रुपये और उससे अधिक जमा पर चार प्रतिशत की दर से ब्याज देता रहेगा। स्टेट बैंक ने नियामकीय सूचना में कहा है, बैंक 31 जुलाई से बचत खाते में दो स्तरीय ब्याज दर ढांचे की शुरूआत कर रहा है। एक करोड़ रुपये और इससे अधिक की जमा पर चार प्रतिशत की दर से ब्याज मिलता रहेगा लेकिन एक करोड़ रुपये से कम की जमा पर ब्याज दर को आधा प्रतिशत घटाकर साढ़े तीन प्रतिशत कर दिया गया है। बैंक ने आगे कहा है, मुद्रास्फीति दर में गिरावट और दूसरी तरफ वास्तविक ब्याज दर का ऊंचा रहना प्राथमिक तौर पर इस बदलाव के पीछे बड़ी वजह रहा है जिसके कारण बचत खाते की जमा पर ब्याज दर में बदलाव करना पड़ा है। स्टेट बैंक ने कहा है कि बचत खाते की दर में संशोधन से बैंक अपने सीमांत लागत आधारित कर्ज की दरों को मौजूदा स्तर पर बनाये रख सकेगा।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top