0
नई दिल्ली। जियो का धमाका अन्य कंपनियों के लिए भारी पड़ रहा है। रिलायंस की 40वीं एजीएम बैठक के बाद कई टेलिकॉम कंपनियों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा हैं। रिलायंस जियो के झटके से फाइनेंशियल ईयर 2018 के पहले क्वार्टर में भी देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल नहीं उबर पाई। इस दौरान एयरटेल का मुनाफा 75 फीसदी कम होकर 367 करोड़ रुपए रहा है। कंपनी का फाइनेंशियल ईयर 2017 के पहले क्वार्टर में 1462 करोड़ का मुनाफा रहा था। वहीं, पहले क्वार्टर के दौरान कंपनी का डाटा रेवेन्यू भी प्रभावित हुआ है। कंपनी का डाटा रेवेन्यू इस दौरान 16.8 फीसदी गिरकर 3765 करोड़ रुपए रहा है। पहले क्वार्टर के दौरान कंपनी का रेवेन्यू 11.1 फीसदी गिरकर 21858 करोड़ रुपए रहा है। इस दौरान इंडिया में कंपनी का रेवेन्यू 10 फीसदी गिरा है, जबकि अफ्रीका कारोबार में कंपनी का रेवेन्यू 1.5 फीसदी बढ़ गया है। जून क्वार्टर के दौरान मोबाइल डाटा ट्रैफिक डबल होकर 52700 करोड़ रूक्चह्य हो गया है। यह पिछले फाइनेंशियल ईयर की समान अवधि से 178 फीसदी ज्यादा है। कंपनी का एबडिटा पहले क्वार्टर में 18.4 फीसदी कम होकर 7823 करोड़ रहा है। कंपनी का एबडिटा मार्जिन पहले क्वार्टर में 35.6 रहा है जो पिछले फाइनेंशियल की समान अवधि से 1.9 फीसदी कम है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top