0
नई दिल्ली। 


नई पीढ़ी-नई सोच संस्था की ओर से 68वां गणतंत्र दिवस सादगी मनाया गया। इसकी अध्यक्षता संस्था के सरपरस्त हाजी जाबिर हुसैन ने की और इनके साथ ही संस्था के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मो. रियाज़ भी मौजूद थे। इस समारोह में मुख्य अतिथि कालोनी के जिम्मेदार लोगों को बनाया गया था जैसे हाजी गुलजार अहमद, वरिष्ठ समाजसेवी अब्दुल्ला गांधी, जकी खान (जिम वाले) आदि लोग थे। संस्था के सरपरस्त हाजी जाबिर हुसैन, हाजी गुलजार अहमद व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मो. रियाज़ ने राष्ट्रध्वज फहराया। इस कार्यक्रम में संस्था की ओर से बच्चों को बिस्कुट बांटे गए और कुछ किताबे (हाजी गुलजार व हाजी शोएब की ओर से बांटी गई।
 कार्यक्रम वर्षा के कारण बदलना पड़ा क्योंकि संस्था की ओर से तिरंगा यात्रा का आयोजन किया जाना था पर बारिस के कारण तिरंगा यात्रा नहीं हो पाई और पूरा प्रोग्राम मदरसा उस्मानिया में शिफ्ट करना पड़ा। यह प्रोग्राम को बहुत छोटा करना पड़ा। इस प्रोग्राम में मदनी मस्जिद व उस्मानिया मदरसे के बच्चों ने देशभक्ति गीत, लोगों को शराब के दुष्प्रभाव के बारे में नाटक के जरिए जागरूक किया ऐसे ही कई प्रोग्राम प्रस्तुत किया। कार्यक्रम की शुरुआत कुरान की तिलावत के साथ की गई।

हाजी गुलजार अहमद ने कहा कि आज का दिन बहुत खुशी का दिन है और सभी को इस गणतंत्र दिवस की बधाई देता हूं और नई पीढ़ी-नई सोच संस्था के सभी सदस्यों को भी बधाई देता हूं कि उन्होंने मुझे इस समारोह में बुलाया। मैं आशा करता हूं कि यह संस्था तरक्की करे और मुझे इसी तरह बुलाती रहे।


वरिष्ठ समाजसेवी अब्दुल्ला गांधी ने सभी को गणतंत्र दिवस की बधाई दी और कहा कि संस्था के सभी पदाधिकारियों और सदस्यों को भी बधाई देता हूं कि उन्होंने बहुत कम समय में यह प्रोग्राम कर दिया। यह प्रोग्राम बारिस के कारण बदल दिया गया जिसके लिए इन लोगों को काफी मेहनत करनी पड़ी है। संस्था के सभी सदस्य युवा हैं और इनमें देश के लिए कुछ कर गुजरने की जज्बा है।



जकी खान (जिम वाले) ने कहा कि आज के दिन ही हमारा संविधान लागू हुआ था इसलिए हर साल हम गणतंत्र दिवस मानते है। मुझे खुशी है कि नई पीढ़ी-नई सोच संस्था के सभी सदस्य युवा हैं और इनमें देश के लिए कुछ कर गुजरने की शक्ति है। यह संस्था हमेशा जनता के लिए कुछ न कुछ करती रहती है और मैं आशा करता हूं कि यह ऐसी ही कार्य करती रहेगी।



संस्था के सरपरस्त हाजी जाबिर हुसैन ने सभी लोगों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी और कहा कि आज के दिन ही हमारा संविधान लागू हुआ था। उन्होंने आगे कहा कि हम आज जो गणतंत्र दिवस मना रहे यह उन करोड़ों लोगों के बलिदान के कारण मना रहे है जो अंग्रेजों के अत्याचारों से हमें आजाद करते हुए देश के लिए कुरबान हो गए। मैं उन सभी देश के शहीदों को भी नमन करता हूं। 


राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मो. रियाज़ ने सभी लोगों को गणतंत्र दिवस की बधाई दी और कहा कि हम लोग आज गणतंत्र दिवस मना रहे हैं क्योंकि आज के ही दिन हमारा संविधान लागू हुआ था। यह संविधान दो वर्ष में बन गया था परंतु 26 जनवरी 1950 को लागू किया गया। उन्होंने सभी मेहमानों से बारिस के कारण हुई परेशानी के लिए माफी मांगी व उनका प्रोग्राम में शामिल होने के लिए शुक्रिया अदा किया। इस प्रोग्राम में संस्था के पदाधिकारी व सदस्य शामिल हुए।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top