0

नई दिल्ली: केन्द्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने एक जेल से भागने के बाद सिमी के आठ आतंकवादियों के मारे जाने को लेकर जारी विवाद पर आज कहा कि संदेह व्यक्त करना और पुलिस पर सवाल उठाना बंद करना चाहिए। साथ ही केवल वीडियो के आधार पर किसी नतीजे पर नहीं पहुंचना चाहिए। रिजिजू ने कहा कि तथ्य जल्द ही सामने आएंगे। उन्होंने ऐसी घटनाओं में अधिकारियों और पुलिस पर संदेह व्यक्त करने और सवाल उठाने की ‘आदत’ की निंदा की।
उन्होंने यहां पर संवाददाताओं से कहा, ‘केवल वीडियो के आधार पर आतंकवादियों से निपटने वाले सुरक्षा बलों पर सवाल उठाना ठीक नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘हम सीमा पर संघर्ष विराम की चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। हमारे जवान जवाबी कार्रवाई कर रहे हैं।’ पुलिस द्वारा भोपाल के नजदीक कल सिमी के आठ आतंकवादियों के मारे जाने की परिस्थितियों पर संदेह को लेकर गृह राज्यमंत्री से सवाल पूछा गया था।
उच्च सुरक्षा वाले सेन्ट्रल जेल के एक सुरक्षाकर्मी की हत्या कर वहां से बच निकलने के कुछ घंटों के बाद भोपाल के बाहरी इलाके में पुलिस के साथ एक कथित मुठभेड़ में सिमी के आठ सदस्य मारे गये थे। अलसुबह दुस्साहस कर जेल तोड़ कर भागने के बाद पुलिस की कार्रवाई को लेकर एक विवाद खड़ा हो गया है। टीवी चैनलों ने कथित तौर पर घटनास्थल से फुटेज दिखाया है जिसमें एक पुलिसकर्मी एक व्यक्ति पर नजदीक से गोली चलाता हुआ नजर आ रहा है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top