0

लखनऊ : समाजवादी पार्टी (सपा) का ‘थिंकटैंक’ कहे जाने वाले पार्टी राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव ने गुरुवार को कहा कि पार्टी से रत्ती भर भी लगाव ना रखने वाले कुछ लोग पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव की सरलता का फायदा उठाते हैं।
रामगोपाल ने सपा मुखिया के मुख्यमंत्री पुत्र अखिलेश यादव और भाई शिवपाल यादव के बीच जारी तनातनी के बीच अखिलेश से मुलाकात करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि बुधवार को मुख्यमंत्री ने मौजूदा हालात के लिये बाहरी व्यक्ति को जिम्मेदार ठहराया था। उनका क्या परिप्रेक्ष्य था, यह तो अखिलेश ही बता सकेंगे, लेकिन इतना जरूर है कि कुछ ऐसे लोग, जिन्हें पार्टी से कोई लगाव नहीं है, वे नेताजी की सरलता का फायदा उठाते हैं।
उन्होंने किसी का नाम लिये बगैर कहा कि ऐसे लोग, जिनको पार्टी से कोई लगाव नहीं है, वे नेताजी की सरलता का लाभ उठाकर पार्टी का नुकसान करते हैं। वे सपा को गर्त में ले जाना चाहते हैं। यही बात मुख्यमंत्री ने अप्रत्यक्ष रूप से कही थी। जितने भी नेता और कार्यकर्ता हमसे मिले हैं, उन सबका भी यही मानना है। रामगोपाल ने पूर्व में निष्कासित किये जाने के बाद हाल में सपा मुखिया के कहने पर सपा के राज्यसभा सदस्य बनाये गये अमर सिंह की तरफ इशारा करने वाले एक सवाल पर कहा कि जब कोई समाजवादी ही नहीं है, तो किस बात का मुलायमवादी। मालूम हो कि अमर सिंह कई बार सार्वजनिक मंचों पर कह चुके हैं कि वह समाजवादी नहीं बल्कि ‘मुलायमवादी’ हैं। रामगोपाल अमर सिंह के धुर विरोधी माने जाते हैं। मालूम हो कि हाल में सपा मुखिया ने एक अप्रत्याशित फैसला करते हुए वरिष्ठ काबीना मंत्री शिवपाल यादव को सपा का प्रान्तीय प्रभारी बनाया था। रामगोपाल ने कहा कि नाजायज फायदा उठाने वाले लोग नेताजी से कहते हैं कि फलां आपको चैलेंज कर रहा है। मेरा कहना है कि नेताजी ने पार्टी को बनाया है, भला उन्हें कौन चुनौती दे सकता है। ‘मुलायमवादी’ पर कार्रवाई कब होगी, इस सवाल पर रामगोपाल ने कहा कि एक सीमा से ज्यादा कोई बात होगी तो उन साहब पर कार्रवाई की बात होगी। वैसे आम कार्यकर्ताओं की राय तो यही है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top