0


नई दिल्ली: उर्जित पटेल रिजर्व बैंक के गवर्नर का कार्यभार संभाल लिया है. उर्जित पटेल आरबीआई के 24वें गवर्नर होंगे. रघुराम राजन का कार्यकाल आज समाप्त हो गया. उर्जित अभी तक आरबीआई के डिप्टी गवर्नर थे. पटेल जाने माने अर्थशात्री हैं जो तमाम बड़ी जिम्मेदारियों को संभाल चुके हैं.
अक्टूबर में 53 साल पूरे करने वाले उर्जित पटेल अभी तक रिजर्व बैंक में मौद्रिक नीति विभाग का जिम्मा संभाले हुए थे. लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और येल यूनिवर्सिटी से पढ़े लिखे हैं. देश में पहली बार महंगाई दर का लक्ष्य तय करने का फैसला भी पटेल की अगुवाई वाली कमेटी की सिफारिशों के आधार पर हुआ था.
कमेटी की सिफारिशों को मानते हुए रिजर्व बैंक ने नीतिगत ब्याज दर तय करने में थोक महंगाई दर के बजाए खुदरा महंगाई दर को आधार बनाया. साथ ही कमेटी की सिफारिशों के आधार पर तय हुआ कि अगले पांच सालो के लिए खुदरा महंगाई दर का लक्ष्य 4 फीसदी रहेगी जो ज्यादा से ज्यादा 6 फीसदी और कम से कम दो फीसदी तक जा सकती है.
फिलहाल पटेल के साथ दो बातें पहली बार हो रही है
  • पहली बार गवर्नर के नाम का चयन कैबिनेट सचिव की अगुवाई वाली एक कमेटी की सिफारिश के आधार पर हुआ. इसी आधार पर नियुक्ति संबंधी कैबिनेट कमेटी ने फैसला किया. एसीसी के मुखिया प्रधानमंत्री है जबकि गृहमंत्री सदस्य होते हैं.
  • पटेल पहले गवर्नर होंगे जो अकेले मौद्रिक नीति में फेरबदल पर फैसला नहीं कर पाएंगे. अब ये काम छह सदस्यों वाली एक कमेटी करेगी जिसके मुखिया गवर्नर होंगे.

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top