0
रियाद:  5/7/2016 सऊदी अरब में ईद से ठीक पहले तीन आत्मघाती हमले हुए हैं. इसमें एक धमाका मुस्लिमों के दूसरे सबसे पवित्र स्थान मदीना में भी हुआ है. हमले में अब तक 4 लोगों की मौत की खबर है. सऊदी अधिकारियों के मुताबिक एक हमलावर पाकिस्तानी था.
मदीना में इस्लाम के सबसे पवित्र स्थलों में से एक, पैगंबर की मस्जिद के बाहर एक आत्मघाती बम हमले में चार सउदी सुरक्षा कर्मियों की मौत हो गई और पांच अन्य घायल हो गए.
गृह मंत्रालय के एक बयान में बताया गया है ‘‘सुरक्षा बलों को एक व्यक्ति पर संदेह हुआ जो अल मस्जिद अल नबवी (पैगम्बर की मस्जिद) की ओर बढ़ रहा था. वह आगंतुकों की पार्किंग से होते हुए बढ़ा. उसे रोकने की कोशिश की गई तो उसने खुद को विस्फोटक वाली बेल्ट से उड़ा लिया.’’
बयान के अनुसार, विस्फोट में हमलावर मारा गया और चार सुरक्षा कर्मियों की भी जान चली गई. विस्फोट की
काले धुएं के गुबार की ये तस्वीर मदीना में पैंगंबर मोहम्मद की मस्जिद के नज़दीक की हैं. यहां आत्मघाती हमलावर ने बम से खुद को तब उड़ाया जब सुरक्षाकर्मी इफ़तार कर रहे थे. धमाके के बाद पास की कार पार्किंग में खड़ी कुछ कारों आग लग गई और इसी दौरान यहां दो शव भी पड़े देखे गए.
आपको बता दें कि इस्लाम धर्म में मक्का के बाद मदीना सबसे पवित्र मानी जाने वाली जगह है. यहां पैगंबर मोहम्मद को दफ़नाया गया था.
इसी तरह एक धमाका सऊदी शहर जेद्दा में ठीक अमेरिकी वाणिज्यिक दूतावास के पास किया गया. सऊदी शहर कातिफ में भी शिया बस्ती के पास एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को बम से उड़ा लिया
तीनों घटनाओं 6 लोगों के मरने की खबर है जिसमें से चार सुरक्षाकर्मी हैं. हमले में 5 लोग घायल भी हुए हैं.
बताया जा रहा है कि मदीना में एक शख्स को संदिग्ध हालत देखने के बाद जब उसे रोकने की कोशिश की गई तो उसने खुद को बम से उड़ा दिया.
अब तक किसी भी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन सऊदी सरकार को हमले के पीछे आतंकी संगठन आईएस का हाथ होने का शक है. ये हमला धमाकों की उसी कड़ी का हिस्सा बताया जा रहा है जिसमें शुक्रवार को ढाका और रविवार को बगदाद में भी हमले किये गए. ढाका में 20 लोगों की मौत हुई जबकि बगदाद में भरे बाजार में हुए हमले में 200 लोग मारे गए सउदी अरब में एक साथ हुए कई हमलों की दुर्लभ घटनाओं में आज तीन आत्मघाती हमलावरों ने हमले किए. देश में इस्लामिक स्टेट पहले भी घातक हमले कर चुका है. हालांकि आज के हमलों की अभी तक किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है.
इस्लाम के पवित्र स्थलों में से एक मदीना में पैगंबर की मस्जिद के बाहर एक आत्मघाती विस्फोट किया गया. स्थानीय मीडिया में आयी खबर में यह जानकारी दी गयी है. इसी स्थान पर मुहम्मद साहब को दफनाया गया था.
अल अरबिया चैनल की खबर में पार्किंग स्थल में लगी आग को दिखाया गया है, जिसके समीप कम से कम एक शव पड़ा हुआ है. चैनल की खबर के अनुसार यह विस्फोट सुरक्षा बलों के पार्किंग एरिया में हुआ है.
दो अन्य हमलावरों ने आज तड़के शाही स्थल के समीप खुद को उड़ा लिया. इस स्थल को पूर्व में सुन्नी आतंकवादियों के इस्लामिक स्टेट ग्रुप ने निशाना बनाया था.
शिया बहुल क्षेत्र कातिफ में निवासियों ने बताया कि एक आत्मघाती हमलावर ने उस मस्जिद के बाहर अपने को उड़ा लिया जहां प्राय: अल्पसंख्यक समुदाय के लोग जाते हैं. कातिफ के स्थानीय निवासियों ने बताया कि हमले में हमलावर मारा गया.

इससे पहले एक अन्य आत्मघाती हमलावर ने जेद्दा के रेड सिटी शहर में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के पास विस्फोट से धमाका किया. गृह मंत्रालय ने बताया कि जेद्दा विस्फोट मामले में दो सुरक्षा अधिकारी घायल हुए हैं.

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top