0
देहरादून। आम आदमी पार्टी के नेता कुलदीप सहदेव ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। सहस्रधारा रोड स्थित पार्टी कार्यालयम में चर्चा के दौरान कुलदीप सहदेव ने कहा कि हरीष रावत सरकार ने पूरे कार्यालय में अपने को बचाने के फैसले को छोडकर कुछ नहीं किया। उन्हें नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए।

आप नेता कुलदीप सहदेव ने रावत पर सवाल उठाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री बिना किसी ठोस योजना के घोशणाएं कर रहे हैं फिर धन की कमी बताकर उसे ठंडे बस्ते में डाल रहे हैं। मुख्यमंत्री ने हाल ही में आठ नए जिले बनाने की घोशणा की और उसके बाद पैसे की कमी का रोना रोने लगे। नेता जी ने कहा कि अगर नए जिले बनाने हैं तो संसाधान विकसित किए जाएं।
आप नेता सहदेव ने कहा कि आपदा प्रबंधन में पूरी तरह से प्रदेश सरकार विफल रही है। प्रभावितों के लिए मुख्यमंत्री हरीष रावत द्वारा की गई घोषणाएं पर अमल नहीं हो रहा है। इस मुद्दे पर आप पार्टी ने सरकार से श्‍वेत पत्र जारी करने की मांग की है। केदारनाथ आपदा के तीन साल हो गए, लेकिन आपदा में जो सडके-पुल, घर, अस्पताल क्षतिग्रस्त हो गए थे, उनका पुर्ननिर्माण नहीं कराया जा सका है। हरीश रावत के सत्ता में आए हुए दो साल हो गए, लेकिन उन्होंने आपदा पीडितों को कोई राहत दी हैं। आज भी लोग बेघर और मूलभूत सुविधाओं से दूर हैं।

बात-चीत के दौरान उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हरीश रावत अल्पमत की सरकार चला रहे हैं। उनके पास बहुमत नहीं है, लेकिन तब भी रावत कुर्सी से काबिज हैं, जिनका उन्हें कोई हक नहीं है। कुलदीप सहदेव ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि शाहिद स्टींग मामले में भी जल्द ही पीई लगने की उम्मीद है। सीबीआई हरीश रावत से संबंधित हार्स ट्रेडिंग मामले की जांच तो कर ही रही है। अब शाहिद प्रकरण की जांच सीबीआई से कराने की मांग आप पार्टी ने की है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top