0
http://1epiz43zu3an3r0r8gwvcr88.wpengine.netdna-cdn.com/wp-content/uploads/2012/07/Zagreb-hostel-room-481x330.jpgनयी दिल्ली -- नौसेना प्रमुख एडमिरल आर के धोवन, पीवीएसएम, एवीएसएम, वाईएसएम, एडीसी और एनडब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूए की अध्‍यक्ष श्रीमती मीनू धोवन ने ‘सहारा’ हॉस्टल की आधारशिला रखी, जो नौसेना  कर्मियों की विधवाओं के लिए एक हॉस्टल होगा। यह नौसेना द्वारा नई दिल्‍ली में नौसेना कर्मियों की विधवाओं के लिए प्रथम एवं अनूठा कल्‍याणकारी कदम है और इसका उद्देश्‍य उनके परिजनों को राहत प्रदान करना है।

नौसना कर्मियों की विधवाओं के लिए हॉस्टल के निर्माण हेतु भारतीय नौसेना ने 20 जनवरी, 2011 को डीडीए से नई दिल्‍ली स्थित वसंत कुंज के डी-6 में एक उपयुक्‍त प्‍लॉट का अधिग्रहण किया था। विभिन्‍न सरकारी एजेंसियों से आवश्‍यक मंजूरी मिलने के बाद 8 अप्रैल, 2016 को दक्षिण दिल्‍ली नगर निगम (एसडीएमसी) से ‘भवन निर्माण परमिट’ हासिल किया गया। इस हॉस्टल का निर्माण कार्य जल्‍द ही शुरू होने की आशा है और अगस्‍त, 2018 तक यह परियोजना पूरी हो जाने की उम्‍मीद है। इस चार मंजिला इमारत में 36 स्‍टूडियो अपार्टमेंट (एक कमरे का फ्लैट), एक मनोरंजक सह डायनिंग हॉल, व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र और ईसीएचएस के अलावा एक कैंटीन होगी। ‘सहारा’ हॉस्टल से नौसेना कर्मियों के निधन के पश्‍चात उनकी विधवाओं को मुश्किलों से जूझने में काफी मदद मिलेगी।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top