0
http://www.akhandbharatnews.com/wp-content/uploads/2015/10/hp-jk-border.jpgनयी दिल्ली -- सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) 7 मई को अपनी 56वीं वर्षगांठ मना रहा है। इस अवसर पर सीमा सड़क के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल सुरेश शर्मा ने बीआरओ के सभी कर्मियों को शुभकामनाएं दी हैं।

 उन्‍होंने संगठन के सभी रैंक के कर्मियों से इसके आदर्श वाक्‍य ‘’श्रमेना सर्वम साध्‍यम’’ के प्रति अपने आपको स‍मर्पित कर संगठन को महान ऊंचाईयों पर ले जाने का आग्रह किया है।

बीआरओ की स्‍थापना से अब तक इसकी शक्ति और क्षमता में बढ़ोतरी हुई है। राष्‍ट्रीय रणनीतिक संपत्ति और प्रमुख निर्माण एजेंसी के रूप में इस संगठन ने सीमावर्ती राज्‍यों और कठिन क्षेत्रों में सड़क बुनियादी ढांचा विकसित करने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई है। 


राज्‍यों में विशेष रूप से पूर्व और पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में संपर्क बढ़ाकर संगठन ने स्‍थानीय आबादी को कई अपेक्षाओं को पूरा किया है। आज संगठन परिवर्तन की ओर आगे बढ़ने की कगार पर है। यह तेजी से नए मोर्चे की तलाशने का प्रयास करने के साथ संयंत्र और उपकरणों का आधुनिकीकरण कर रहा है। 

संगठन ने वित्‍त वर्ष 2015-16 में उत्‍पादकता, गुणवत्‍ता और वित्‍तीय चुनौतियों से निपटने में सफलता हासिल की है और आम बजट में आवंटित संपूर्ण राशि का उपयोग कर लिया गया है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top