0
-प्रेमबाबू शर्मा

नई दिल्ली -- स्कूल मिशलिन इंडिया एंड पीवीआर नेस्ट सिनेआर्ट ‘‘स्टीयर टु सेफ्टी‘‘ प्रोग्राम के विजेताओं को जीन टोड, प्रेसिडेंट, फेडरेशन इंटरनेशनल डि एल’आॅटोमोबाइल (एफआइए) और  अभय दामले, संयुक्त सचिव, सड़क परिवहन, राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्रालय,ने दिल्ली एनसीआर के स्कूलों को पुरस्कार वितरित किये।  प्रतिष्ठित नामों  किरण कपिला, चेयरमैन, इंटरनेशनल रोड फेडरेशन ने उपस्थित होकर कार्यक्रम की गरिमा बढ़ाई।

समारोह में अभय दामले ने कहा, ‘‘दिल्ली एनसीआर की सड़कों को सुरक्षित बनाने में पीवीआर नेस्ट और मिशलिन इंडिया द्वारा किये गये प्रयासों को देखकर अच्छा लग रहा है। भारी संख्या में स्कूलों की प्रतिभागिता देखकर मुझे खुशी हो रही है। 


सड़क सुरक्षा सरकार के लिए शीर्ष प्राथमिकता है जोकि लोगों को सुरक्षित शहर और परिवहन की बेहतरीन सुविधायें मुहैया कराने के हमारे विजन के अनुरूप है। सड़क सुरक्षा के चैंपियनों को मेरी तरफ से बधाईयां। मैं इस नेक कार्य के लिए आपके प्रयासों के बारे में और अधिक प्रेरणादायक कामयाब कहानियां सुनने के लिए तत्पर हूं।‘‘

श्री जीन टोड, फेडरेशन इंटरनेशनल डि एल’आॅटोमोबाइल ने कहा, ‘‘मुझे इस बेहतरीन पहल का समर्थन करके खुशी हो रही है जिसने भारत में बच्चों को प्रेरित किया है। पिछले तीन सालों में, 500 स्कूलों में लगभग 5 लाख बच्चों ने सड़क सुरक्षा क्लब स्थापित करने में अपनी प्रतिबद्धता जताई।
 

लघु फिल्मों के सम्मान के अलावा, सीएफसी (चैंपियंस फाॅर चेंज) अवार्ड्स भी स्कूलों को प्रदान किये गये। यह अवार्ड सड़क सुरक्षा जागरुकता, सड़क सुरक्षा शिक्षा, रोड सेफ्टी एडल्ट सेंसिटाइजेशन (पैरेंट्स, ड्राइवर्स, सिविल सोसायटी) और सड़क सुरक्षा समाजिक परिदृश्य श्रेणियों के तहत इस प्रोग्राम की दिशा में किये गये बेमिसाल योगदान के लिए दिये गये।
 

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top