0

-प्रेमबाबू शर्मा
 
आॅन लाइन टैक्सी सर्विस ने ग्राहकों सुरक्षा प्रदान करने के मकसद से सेवा निवृत फौजी चालक कर्मचारीयों की नियुक्ती शुरू कर दी है। दिल्ली सहित अनेक महानगरों में महिलाओं के साथ छेडछाड और बढते वारदातों से फौजी चालक मुकाबला करने में सक्षम होगें।
http://images.indianexpress.com/2015/04/uber-cab_759.jpg 
सीमा सुरक्षा बल से रिटायर्ड तामिलनाडु के फौजी कन्नन ने बताया कि‘ आज उबेर कार ग्राहकों को लुभा रही है। कम कीमत और कम समय पर उपलब्ध कार में सवार पूरी तरह से सुरक्षित है। कन्नन उबेर से बतौर कार चालक जुडकर स्वयं को गौरान्विंत कर रहे है। उबेर पंजीकृत कंपनी से अपनी कार जब को जोडा तो उस समय संकोच था,लेकिन करीब दो साल जुडने के बाद में उनको कंपनी एक परिवार की तरह लगती है। 
 
समय पर भुगतान के साथ में ग्राहकों को की हर सुविधा के रूप हम पूरा ध्यान रखते है। 40 वर्षीय कन्नन सीमा सुरक्षा बल के जवान के रूप में देश के विभिन्न सीमाओं के प्रहरी रूप सेवा करने के जब सेवा वे  रिटार्यड हुए तो उस समय अपने भविष्य के बार सोचने कि लगे कि बाकी का जीवन कैसे कटेगा। लेकिन बाद में सोचा कि अपनी कार खरीद कर यात्रियों के रूप में देश की सेवा करूंगा, और उबेर कंपनी में अपनी कार का पंजीकरण करा लिया। आज मेरे परिवार का जीवन सुखदमय कट रहा है। 
 
उबेर ने रिटार्यड फौजीयों जोडकर यह साबित कर दिया कि अन्य चालकों मुकाबले फौजी सुरक्षा के साथ ज्यादा बेहतर सेवा दे सकते है और आपत स्थिति में निबटने में सक्षम होते है।ं

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top