0
नई दिल्ली --   पैट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि सरकार इसी साल प्लास्टिक के पारदर्शी सिलैंडरों को बाजार में उतारने की तैयारी कर रही है। उनका कहना है कि देश में ही इसके उत्पादक मिल गए हैं इसलिए कोशिश है कि इसी साल इसे देश के कुछ हिस्सों में परीक्षण शुरू हो जाए। 

http://img.punjabkesari.in/default.aspx?img=http://static.punjabkesari.in/multimedia/2015_10image_10_07_156220706lpg-ll.jpg&width=400मंत्रालय  का कहना है कि इस पर काम चल रहा है। पहले यहां प्लास्टिक के पारदर्शी सिलैंडर बनाने वाले नहीं मिल रहे थे लेकिन अब मंत्रालय के संपर्क में 2 कंपनियां हैं जो कि इसे भारत में ही बना सकती हैं। उनका कहना है कि यही प्लास्टिक के सिलैंडरों को बाजार में उतारने का सही वर्ष है क्योंकि अभी कच्चे तेल के दाम पिछले 13 वर्षों के न्यूनतम स्तर पर है।

प्लास्टिक बनाने में मुख्य कच्चा माल प्लास्टिक दाना है जो कि कच्चे तेल से ही बनता है। उन्होंने बताया कि अभी तो प्लस्टिक वाले सिलैंडरों का मूल्य पारंपरिक लोहे वाले सिलैंडरों के मुकाबले दोगुना बताया गया जा रहा है लेकिन एक बार जब यहां भारी संख्या में बनना शुरू हो जाएगा तो दाम नीचे आने की पूरी संभावना है। 

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top