0
नयी दिल्ली -- केंद्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार आतंकवाद से अधिक प्रभावी रूप से निपटने के लिए राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए), को मजबूत और सशक्‍त बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। 

एनआईए दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि देश में एनआईए के अधिक कार्यालय खोले जा रहे हैं, जिन्‍हें आधुनिक हाईटैक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए वैश्विक प्रयासों में सबसे आगे है और इसने आतंकवाद के विरूद्ध सभी अंतर्राष्‍ट्रीय संधियों पर हस्‍ताक्षर किये हैं।

उन्‍होंने कहा कि अनेक आक्रमणों के बावजूद हमारी अखंडता और संप्रभुता कायम रही है। हमें अपनी परम्‍पराओं और रीति-रिवाजों के महत्‍व को समझना चाहिए, तभी हम अपनी पहचान बनाये रख सकते हैं। इस अवसर पर जम्‍मू-कश्‍मीर के राज्‍यपाल श्री एन.एन. बोहरा ने राष्‍ट्रीय सुरक्षा प्रबंधन-कुछ चिंताएं विषय पर तीसरा आर.वी. राजू स्‍मारक व्‍याख्‍यान दिया।

 एनआईए के महानिदेशक श्री शरद कुमार ने कहा कि रायपुर और जम्‍मू में एनआईए के दो केन्‍द्रों की जल्‍द ही स्‍थापना की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि एनआईए की जांच में सफलता दर 95 प्रतिशत और दोषसिद्दि में 92 प्रतिशत है। एजेंसी ने 2009 में अपनी स्‍थापना से लेकर 119 मामले अपने हाथ में लिये है। यह एजेंसी आतंकवाद से संबंधित मामलों की जांच करने में अग्रिम पंक्ति की जांच एजेंसी है।

Post a Comment Blogger Disqus

 
Top